May 7, 2020

कोरोना वायरस से जुड़ी भ्रांतियों के कारण, हजारों छोटे महिला मुर्गीपालक किसानों को व्यवसाय में हुआ घाटा

मुर्गी का मांस खाने से कोरोना वायरस फैलने की अफवाह के चलते, उन दस हजार से अधिक आदिवासी और दलित छोटे मुर्गीपालक किसानों को अपनी मुर्गियों को मारने के लिए मजबूर होना पड़ा है, जिन्होंने सफलतापूर्वक सहकारी उद्यमों का निर्माण करते हुए गरीबी से मुक्ति पाई थी

May 5, 2020

एक आदिवासी समुदाय ने कैसे COVID-19 से खुद को बचाने के लिए उपाय किए

तमिलनाडु की सित्तिलिंगी घाटी दूरदराज़ होने के बावजूद, यहां की एक बड़ी आबादी रोजगार के लिए पलायन करती है। इस तथ्य ने अपने को सुरक्षित रखने के लिए, सक्रिय पंचायत नेतृत्व को समुदाय को एकजुट करने के लिए प्रेरित किया

April 28, 2020

“आशा” बांट रही हैं जीवन की आशा

कोरोना महामारी ने जहाँ आम जनता को घरों तक सीमित कर दिया है, आशा स्वास्थ्य कार्यकर्ता जोखिम उठाकर भी मातृ एवं शिशु सुरक्षा के अपने दायित्व के साथ-साथ, कोरोना के खिलाफ भी रात दिन संघर्ष कर रही हैं

April 23, 2020

कोरोना महामारी के बाद कैसे कम किया जाए ग्रामीण भारत का दर्द

राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान और महामारी के बाद, ग्रामीण संकट के स्रोतों को समझते हुए, ग्रामीण नागरिकों की पीड़ा को कम करने वाले उपायों की आवश्यकता है