बासुदेव महापात्रा
April 22, 2021

प्रशासकों को उम्मीद है कि सिमलीपाल की जनजातियाँ खुश की जा सकेंगी

21 मार्च को मनाए जा रहे अंतर्राष्ट्रीय वन दिवस और सिमलीपाल के जंगलों में लगी आग की ख़बरों के चलते, इस जीवमंडल क्षेत्र के प्रशासकों को आशा है कि शिक्षा और रोजगार के माध्यम से विस्थापित वनवासियों की मानसिकता बदली जा सकेगी

February 9, 2021

जीवन-कौशल शिक्षा से रुका ओडिया जनजातियों में बाल विवाह

जीवन-कौशल सम्बन्धी शिक्षा आदिवासी लड़कियों को ज्ञान, आत्म-जागरूकता और निर्णय लेने की क्षमता के साथ सशक्त बनाती है, जिससे उन्हें सामाजिक रीति-रिवाजों और दबावों से ऊपर उठने में मदद मिलती है। इसके परिणामस्वरूप बाल विवाह में कमी आई है|

December 22, 2020

मलकानगिरी शिशु मृत्यु: बीमारी या कुपोषण?

ओडिशा के मलकानगिरी जिले में बच्चों की बड़ी संख्या में मृत्यु के लिए, आधिकारिक तौर पर जापानी इंसेफेलाइटिस (दिमागी बुखार) और मलेरिया को जिम्मेदार ठहराया गया है, लेकिन ग्रामवासियों और नागरिक समाज संगठनों का कहना है, कि इन टाली जा सकने वाली मौतों में कुपोषण का योगदान दिया है

November 17, 2020

घर के बगीचों द्वारा ओडिशा की महिलाओं ने किया कुपोषण से मुकाबला

ओडिशा के संकटग्रस्त और कुपोषित क्षेत्रों में, महिलाएं अपने परिवार को जैविक सब्जियां और फलियां खिलाने के लिए, साल भर लगातार, बिना किसी अतिरिक्त लागत के पोषण उद्यान लगा रही हैं।

Array ( [marginTop] => 0 [pageid] => [alignment] => left [width] => 292 [height] => 300 [color_scheme] => light [header] => header [footer] => footer [border] => true [scrollbar] => scrollbar [linkcolor] => #2EA2CC )
Please Fill Out The TW Feeds Slider Configuration First