September 17, 2020

बंगाल की महिलाओं ने टर्की में पाई एक व्यवाहरिक आजीविका

बाधाओं और स्व-रोजगार की परियोजनाओं की विफलता पर काबू पाते हुए, महिला स्व-सहायता समूहों के सदस्यों ने दृढ़ता से काम जारी रखा और टर्की पालन को अपनाकर एक सफल आजीविका के लिए रुझान हासिल किया

September 8, 2020

लॉकडाउन सम्बन्धी आर्थिक राहत प्राप्त करने में, ‘बैंक सखियों’ ने की ग्रामीणों की मदद

जिन गाँवों में बैंकिंग सुविधाओं का अभाव है, वहां बैंक के प्रतिनिधियों के रूप में, बैंकिंग अभिकर्ता संबंधित कार्य करते हैं। लाभार्थियों तक लॉकडाउन कल्याण सहायता पहुँचाने में उनका महत्वपूर्ण योगदान रहा है

September 3, 2020

समुदाय की चुनौतियों से निपटने के लिए, समूहों ने किया महिलाओं का सशक्तिकरण

स्व-सहायता समूहों के गठन में विरोध से लेकर, पीने के पानी और स्वास्थ्य सुविधाओं को सुनिश्चित करने तक, गाँव की महिलाएँ सामूहिकता के सकारात्मक प्रभावों को दर्शाती हैं

July 23, 2020

अनाज के योगदान के माध्यम से महिलाएं कर रही हैं लॉकडाउन में कमजोर परिवारों की मदद

तालाबंदी के बीच काम के अभाव में, दूरदराज के गांवों में कई महिलाओं के पास अपने परिवार का पेट भरने के लिए आवश्यक सामग्री भी नहीं थी। साथी महिलाओं ने योगदान करके एक फूड बैंक बनाकर उनकी मदद की