मोहम्मद इमरान खान
September 22, 2020

दही के उपयोग से, जमीनी स्तर के नवाचार के माध्यम से बिहार में खेती की लागत कम हुई

वैज्ञानिक रूप से अभी मान्य ने होने के बावजूद, तांबे के साथ दही का एक मिश्रण, उत्तरी बिहार के कई हिस्सों में लोकप्रिय हो गया है, क्योंकि इससे बहुत से छोटे और सीमांत किसानों की पैदावार बढ़ाते हुए, खेती की लागत में कटौती की है

August 4, 2020

बिहार के दलितों को अनाज बैंक ने दी, भूख के डर से मुक्ति

बिहार में पटना जिले के कई क्षेत्रों में, समुदाय द्वारा प्रबंधित चावल बैंकों की सहायता से, कमी वाले मौसम में भोजन सुनिश्चित करके, शक्तिशाली जमींदारों के शोषण से सैकड़ों दलित परिवारों को मुक्ति मिली है।

February 3, 2020

ग्रामीण महिलाओं ने सुजिनी कशीदाकारी को विश्व के मानचित्र पर स्थापित किया

बिहार की महिला शिल्पकारों ने कभी स्थानीय उपयोग के लिए तैयार की जाने वाली पारंपरिक कशीदाकारी सुजिनी को, आधुनिक आवश्यकताओं के अनुरूप ढाल कर एक अंतरराष्ट्रीय आकर्षण प्रदान किया है।

Array ( [marginTop] => 0 [pageid] => [alignment] => left [width] => 292 [height] => 300 [color_scheme] => light [header] => header [footer] => footer [border] => true [scrollbar] => scrollbar [linkcolor] => #2EA2CC )
Please Fill Out The TW Feeds Slider Configuration First