November 3, 2020

लौट कर आए प्रवासियों ने आजीविका के लिए अपनाई तस्करी

भारत - बांग्लादेश सीमा के नजदीक पश्चिम बंगाल के गाँवों में, लॉकडाउन के दौरान घर वापस आए प्रवासियों को आर्थिक सहारे के लालच में तस्करी में डाल दिया गया है

October 20, 2020

लॉकडाउन से, खानाबदोश (घुमन्तु) चरवाहों के रास्तों में आई, नई कठिनाइयाँ

ग्रीष्मकालीन चरागाहों की ओर प्रवास और संयोगवश पहले लॉकडाउन के उसी समय होने और आवाजाही पर भारी प्रतिबंधों के कारण, चरवाहों को भेदभाव के अलावा, चरागाहों, पानी और चारे का अभाव झेलना पड़ा

October 15, 2020

ऑनलाइन कक्षाएं, ग्रामीण लड़कियों की शिक्षा का अंत है

घर में एकमात्र मल्टीमीडिया फोन के इस्तेमाल के लिए लड़कों को वरीयता मिलने के कारण, गरीब ग्रामीण परिवारों की लड़कियों ने पढ़ाई छोड़ दी, और खुद को जल्द शादी की स्थिति के हवाले कर दिया

September 24, 2020

लॉकडाउन के दौरान, आदिवासी समुदाय ने किया सामूहिक कुओं को पुनर्जीवित

जब पीने के पानी की बेहतर उपलब्धता के लिए बार-बार किए गए अनुरोध विफल हो गए, तो एक महिला समूह की सदस्यों ने, लॉकडाउन के कारण प्रवास से लौटे युवकों को, सामुदायिक कुओं के पुनर्निर्माण के लिए राजी कर लिया